माँ के प्यार की 3 बहुत ही प्यारी और प्रेरणादायक कहानियां

माँ के प्यार की 3 बहुत ही प्यारी और प्रेरणादायक कहानियां

माँ के प्यार की कहानियां – वो कहते है न माँ (mother) शब्द अपने आप में परिपूर्ण है दुनिया में हम चाहे कितने भी रिश्ते से क्यू न बधे हुए है लेकिन माँ (mother) के बिना हमारा जीवन अधुरा होता है हर रिश्ते को आप से कुछ पाने की आस रहता है लेकिन माँ (mother) का पुत्र के बीच एक ऐसा रिश्ता है जो एक माँ (mother) अपने अपने संतान को जीवनपर्यन्त सिर्फ देना जानती है माँ (mother) भूखी सो सकती है लेकिन कभी भी अपने संतान को भूखे पेट सोना सपने में भी नही देखना चाहती है माँ (mother) तो हर वक्त अपने संतान के कल्याण की बात सोचती है की किस प्रकार उसकी संतान आगे बढे और जग में नाम करे|

Click here to read:-  6 Common Health Problems in Women’s

माँ के प्यार की कहानियां

  • माँ (mother) के अपने बच्चे के प्रति प्यार (love) एक प्रेरणादायक कहानी

एक दिन थॉमस अल्वा एडिसन / Thomas Alva Edison स्कूल से अपने घर आया और स्कूल से मिले हुए हुए पेपर को अपनी माँ (mother) से देते हुए बोला की “माँ (mother) मेरे शिक्षक ने मुझे यह पत्र दिया है और कहा है की इसे केवल अपनी माँ (mother) को ही देना, बताओ माँ (mother) आखिर इसमें ऐसा क्या लिखा है मुझे जानने की बड़ी उत्सुकता है”

तब पेपर को पढ़ते हुए माँ (mother) की आखे रुक गयी और तेज आवाज़ में पत्र पढ़ते हुए बोली “आपका बेटा (son) बहुत ही प्रतिभाशाली है यह विद्यालय उसकी प्रतिभा के आगे बहुत छोटा है और उसे और बेहतर शिक्षा देने के लिए हमारे पास इतने काबिल शिक्षक नही है इसलिए आप उसे खुद पढाये या हमारे स्कूल से भी अच्छे स्कूल में पढने को भेजे” ये सब सुनने के बाद एडिसन अपने आप पर गर्व करने लगा और माँ (mother) के देखरेख में अपनी पढाई करने लगा

लेकिन एडिसन के माँ (mother) के मृत्यु के कई सालो बाद एडिसन तो एक महान वैज्ञानिक बन गया और एक दिन अपने कमरों की सफाई कर रहा था तो उसे अलमारी में रखा हुआ वह पत्र मिला जिसे उसने खोला और पढने लगा उसमे लिखा था की “आपका बेटा (son) मानसिक रूप से बीमार है जिससे उसकी आगे की पढाई इस स्कूल में नही हो सकता है इसलिए उसे अब स्कूल से निकाला जा रहा है” इसे पढ़ते ही एडिसन एक भावुक हो गया और फिर अपनी डायरी में लिखा की “ थॉमस एडिसन तो एक मानसिक रूप से बीमार बच्चा था लेकिन उसकी माँ (mother) ने अपने बेटे (son) को सदी का सबसे प्रतिभाशाली व्यक्ति बना दिया”

Click here to read:-  Did You Know these 4 Ways to Avoid an Unwanted Pregnancy

 

नैतिक शिक्षा

जीवन में हम क्या है कैसे है यह महत्वपूर्ण नही है लेकिन अगर अपने ऊपर माँ (mother) की ममता और प्यार (love) हो तो मानसिक रूप से भी बीमार बच्चे की भविष्य और नियति को बदला जा सकता है और बच्चा माँ (mother) के आचल से दुनिया का सबसे महान व्यक्ति भी बन सकता है

माँ के प्यार की कहानियां

  • माँ (mother) के लिए गुलाब भावनात्मक कहानी

राह चलते एक आदमी फूलो की दुकान को देखते हुए अपनी गाड़ी को रोका और दुकानदार के पास गया और अपनी माँ (mother) के लिए फूल भेजने के लिए कूरियर भेजने का निवेदन किया इतने में एक छोटी बच्ची वहा आयी और उस आदमी से बोली “अंकल मै अपनी माँ (mother) के लिए लाल गुलाब खरीदना चाहती हु लेकिन मेरे पास 2 रूपये कम पड़ रहे है इसलिए अगर मेरी 2 रूपये की मदद कर दे तो मै इन फूलो को खरीद सकती हु”

यह सुनकर वह व्यक्ति मुस्कुराया और बोला ठीक है तुम खरीद लो 2 रूपये मै दे देता हु फिर जैसे ही वह व्यक्ति फूलो का आर्डर देने के पश्चात वहा से जाने लगा तो लड़की (girl) बोली आप आगे जा रहे है तो मुझे भी आप अपने गाड़ी से मेरे पास के छोड़ देना तो व्यक्ति उस लड़की (girl) को अपनी गाड़ी में बिठा लिया उअर कुछ देर चलने के बाद वह लड़की (girl) एक कब्रिस्तान के पास रुकी और बोली मेरी माँ (mother) यही रहती है इसके बाद वह लड़की (girl) कब्रिस्तान में जाने लगी तो उत्सुकतावश वह व्यक्ति भी उस लड़की (girl) के पीछे पीछे चल दिया तो देखा की एक कब्र पर वह लड़की (girl) फूलो को सजा रही है और फिर कब्र से लिपट गयी.

जिसे देखकर उस व्यक्ति की आखे खुल गयी वह अब समझ चूका था की अपनों के खोने का क्या गम होता है और वह व्यक्ति तुरंत वहा से वापस फूलो की दुकान पर गया और अपना कूरियर का आर्डर निरस्त करके खुद फूलो का गुलदस्ता लेते हुए अपने हाथो से माँ (mother) को देने के लिए निकल पड़ा

नैतिक शिक्षा

हमारा जीवन छोटा है अप जिन्हें चाहते है जो कोई भी आपका हो उनके साथ अधिक से अधिक समय व्यतीत करे क्यूकी सबको अपनो के प्यार (love) की जरूरत पड़ती है और ऐसा करने में हम देरी करते है तो क्या पता कब हम अपनों से दूर हो जाए और फिर अपनों का प्यार (love) पाना नामुमकिन हो जाये इसलिए जीवन के प्रत्येक क्षण में जीवन का आनन्द ले क्यूकी आपके परिवार से बढकर कुछ भी महत्वपूर्ण नही है

Click here to read:-  Did you know These 5 Acupressure Point for Weight Lose

माँ के प्यार की कहानियां

  • माँ (mother) की ममता का मोल एक कहानी

एक व्यक्ति जो की अपने जीवन में काफी सफल हो चूका था और एक दिन अपनी माँ (mother) के पास गया और बोला “माँ (mother) आज कुछ भी मेरे पास है मै जिस सफलता के बुलंदियों को पा चूका हु वो सब आपके प्यार (love) और ममता की ही देन है इसलिए माँ (mother) मै चाहता हु आपने जो प्यार (love) दिया है मै उसका ऋण चुकता करना चाहता हु”

यह सुनकर माँ (mother) आश्चर्यचकित हो गयी और बोली “नही बेटा (son) मुझे अपनी ममता और प्यार (love) के बदले कुछ भी नही चाहिए ये तो मेरा फर्ज था जो की मै अपनी संतान के लिए किया”

लेकिन वह व्यक्ति बार बार जिद करने लगा नही माँ (mother) मै आपके प्यार (love) और ममता के बदले कुछ देना चाहता हु माँ (mother) आप मांगों तो सही, तो बार बार जिद करने के बाद माँ (mother) बोली “ठीक है क्या तुम मेरे साथ जैसे बचपन में सोते थे वैसे सो सकते हो क्या” यह बात सुनकर वह व्यक्ति बोला बस इतनी सी बात है तो जरुर मै अपनी माँ (mother) के पास आज रात (night) सोऊंगा

और जैसे ही रात (night) में वह व्यक्ति अपने पास के सो गया माँ (mother) उठकर एक मग पानी ले आती है जहा अपने सोयी थी उस तरफ से पानी डाल देती है जिससे धीरे धीरे वह पानी उस व्यक्ति की तरफ भी चला गया और फिर नमी से वह व्यक्ति परेशानी महसूस करने लगा और दूसरी तरफ खिसक गया तो फिर माँ (mother) ने और पानी डाल दिया जिससे जिससे उधर भी नमी महसूस हुआ तो वह तुरंत उठ गया और अपनी माँ (mother) के हाथ में मग देखकर गुस्से से बोला “आप क्या कर रही हो माँ (mother), मुझे सोने क्यू नही देती हो आप मुझे गीली बिस्तर पर भला कैसे सुला सकती हो”

माँ के प्यार की कहानियां

तो वह माँ (mother) बोली “ बेटा (son) जब तुम बचपन में मेरे साथ सोते थे तो ऐसे ही तुम भी बिस्तर गीली कर देते थे और फिर मै दूसरी तरफ तुम्हे करके खुद गीली स्थान पर सो जाती थी तुम तो मेरे प्यार (love) और ममता का कर्ज चुकाना चाहते हो जो मैंने तुम्हारे लिए किया था क्या तुम मेरे लिए थोडा सा भी केवल एक रात (night) के लिए गीले में सो नही सकते हो यदि तुम ऐसा कर सकते है तो मै समझ जाउंगी की तुमने मेरे ममता का कर्ज चूका दिया है”

माँ (mother) की बाते सुनकर अब उस व्यक्ति की आखे खुल गयी थी उसे अब समझ आ चूका था की जो माँ (mother) अपने न जाने कितने रातो को मेरे ख़ुशी के लिए ऐसे ही गुजार दिए है भला उस माँ (mother) का कर्ज कैसे चुकता किया जा सकता है अब वह किये पर शर्मिंदा था

Click here to read:-  6 Killer Ways To Build Muscles And Excellent Physique Easily

माँ के प्यार की कहानियां

नैतिक शिक्षा

इस दुनिया में चाहे कितने भी ऋण और कर्ज हो चुकाए जा सकते है लेकिन माँ (mother) के प्यार (love) और ममता के मोल को कभी भी नही चुकाया जा सकता है यहाँ तक एक माँ (mother) अपने पुत्र को इस संसार में पाने के लिए सारे दुखो को भूल जाती है एक सन्तान जो की माँ (mother) के कलेजे का टुकड़ा ही होता है जिसे चाहकर भी माँ (mother) अपने अपने संतान को कभी भी अपने से अलग होते हुए नही देखना चाहती है माँ (mother) चाहे कितने भी दुःख में न हो लेकिन एक माँ (mother) ही अपने संतान के हित की बात हर घडी सोचती रहती है इसलिए हमे भूलकर माँ (mother) के ममता और प्यार (love) का मोल नही लगाना चाहिए अगर कुछ देना ही है तो हमे अपनी माँ (mother) के प्रति हमेसा प्रेम बनाये रखना चाहिए क्यू की इस दुनिया में हमारी माँ (mother) जैसी कोई दूसरी चीज भी नही है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *