एक सच्ची दर्दनाक कहानी – माँ की कुर्बानी

एक सच्ची दर्दनाक कहानी – माँ की कुर्बानी

माँ की कुर्बानी – ये कहानी है एक माँ (mother) की जिसका एक बेटा (son) था जिसे वो अपनी जान से ज्यादा प्यार (love) करती थी ! यहाँ तक की उसके लिए सब कुछ लुटाने को तैयार थी ! जब इस माँ (mother) का बेटा (son) बड़ा हुआ समझदार हुआ तो इसका एडमिशन स्कूल में कराया !  जिस बेटे (son) को जान से ज्यादा चाहा उस बेटे (son) को अब अपनी माँ (mother) से नफरत होने लगी थी इसकी वजह ये थी की माँ (mother) उस बच्चे के स्कूल में काम करती थी ! माँ (mother) …

माँ (mother) ने जिस स्कूल में बच्चे का नाम लिखवाया खुद माँ (mother) उस स्कूल में सफाई का काम करती थी , स्कूल के सारे बच्चे का उस लड़के को छेड़ते थे क्यूंकि उसकी माँ (mother) की एक आँख थी  जिसकी वजह से बेटा (son) बहुत जिद्द करता था स्कूल नहीं जाना चाहता था खैर धीरे धीरे वक्त गुज़रा और बच्चा अब बड़ा हो गया था ! अब …

Click Here to Read:- 11 Major Differences Between Successful And Unsuccessful People Proved By Science

एक सच्ची दर्दनाक कहानी – माँ की कुर्बानी

अब जवान बेटा (son) बाहर जा कर पढने की सोचने लगा और वो अपने माँ (mother) से दूर जाना चाहता था क्यूंकि जो माँ (mother) बेटे (son) को जान से ज्यादा चाहती थी वही बेटा (son) अपनी माँ (mother) से नफरत करता था ! वो चला गया था बाहर पढ़ने ! दिन गुज़रता रहा और बेटे (son) ने बाहर ही शादी करलिया ! माँ (mother) अपने बेटे (son) की आवाज़ सुनने को तरस रही थी और माँ (mother) जब भी कोशिश करती फ़ोन कर के बात करने की तो बेटा (son) फ़ोन उठाकर रख देता था और माँ (mother) हेल्लो हेल्लो करती रहती बेटा (son) फ़ोन काट देता ! जब माँ (mother) …

जब माँ (mother) से रहा ना गया किसी सूरत पता लगा कर माँ (mother) अपने बेटे (son) को देखने के लिए उसके घर पहुच गई , जब दरवाज़ा खटखटाया तो उसके दो पोते दौड़ते हुए आये दरवाज़ा खोलने और जब उन्होंने अपनी दादी को देखा तो वो डर गये और भागते हुए अपने अब्बा के पास चले जाते है जब माँ (mother) आती है घर के अन्दर तो उसका बीटा देखता है अपनी माँ (mother) को और गुस्से से कहता है की आप आंख का इलाज (सर्जरी) कराइए मेरे बच्चे देख कर आपको डर गये !  माँ (mother) को बेहद अफ़सोस हुआ और उल्टा पैर रोते रोते वापस हो गयी अपने घर को ! यूँ ही..

Click here to read:- 7 Life Changing Lessons that Improved My Living

एक सच्ची दर्दनाक कहानी – माँ की कुर्बानी

यूँ ही फिर तनहा टाइम काटने लगी बूढी माँ (mother) ! एक दिन बेटे (son) के घर कुछ दोस्त गये और अचानक बात करते करते माँ (mother) का कोई किस्सा निकल गया उसे अपनी माँ (mother) की याद आई और वो वापस गया अपनी माँ (mother) से मिलने उसके घर, दरवाज़ा खटखटाया अन्दर से कोई जवाब नहीं आया तब बेटा (son) गया पड़ोस में पूछने तो पड़ोसियों ने बताया उसकी तो मिर्त्यु हो गयी ! जब से आई थी सफ़र से बहुत मायूस और परेशान रहती थी और मुझे..

और मुझे उसने ये वसीयत दी थी की मै आप को देदूं ! जब बेटा (son) माँ (mother) का ख़त खोलता है और पढता है तो उसमे लिखा था मेरे प्यारे बेटे (son) तुम्हे पता है तुमसे बेहद प्यार (love) करती हूँ मैंने तुम्हे माफ़ कर दिया लेकिन कम से कम एक बार पूछते की ये मेरी एक आंख किस वजह से मैंने खोई तो मै तुम्हे बताती की तुमने एक हादसे में अपनी एक आँख खो दी थी और मैंने अपनी आँख दी थी और आज तुम हमारा मजाक उड़ाते थे इसी आंख की वजह से ! उपर वाला तुम्हे तुम्हे माफ़ करे ! बेटे (son)..

बेटे (son) को पछताने के इलावा कुछ नहीं मिला ! इस मेसेज को आगे पहुचाइए शेयर कीजिये और माँ (mother) जैसी नेमत की क़दर करने की अपील कीजिये  सभी से ! बचपन में किस तरह पाला है उसने हमें आज हम पैरो पर खड़े होने के बाद माँ (mother) को ही भूल जाते है ! माँ (mother) जैसा कोई नहीं ! माँ (mother) तो माँ (mother) है  !  ऊपर वाला हम सभी को अपनी माँ (mother) की सेवा करने का मौका दें !

एक सच्ची दर्दनाक कहानी – माँ की कुर्बानी

,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *