एक सची दर्दनाक कहानी – देश आगे बढ़ रहा है – अस्पताल पिछड़ रहे है – A true painful story of india – country is growing but hospitals going down

एक सची दर्दनाक कहानी – देश आगे बढ़ रहा है – अस्पताल पिछड़ रहे है – A true painful story of india – country is growing but hospitals going down

एक बाप (father) स्ट्रेचर पर तडपते हुए अपने बेटे (son) को दिलासा दिला रहा था कि

“बेटा मैं हूँ न ,

सब ठीक (all right) हो जाएगा

बस तुम्हारी MRI होना बाकी है

फिर डॉक्टर (doctor) तुम्हारा इलाज शुरू कर …..”

Vintage Antique Multicolor Pearl Zircon and Metal Finger Ring for Girls and Women

वो बदकिस्मत बाप (unlucky father) अपनी बात पूरी कर पाता उस से पहले ही स्ट्रेचर (stretcher) पर पड़े उसके बेटे को एक भयानक दौरा पड़ा।

बात बीच में छोड़ कर वो उसकी पीठ (back) पर थप्पी मारने लगा।

अपने इक्लोते बेटे (only son) को यूँ तडपते हुए देख उसकी आँखों से आंसू (tears in eyes) टपकने लगे।

6 फिट लम्बाई लम्बा (6 feet height) चोडा शरीर था उसका

लेकिन अपने बेटे की दुर्दशा (condition of son) देख उसका सारा पोरुष पिघल गया।

बच्चो की माफिक रोने (crying like child) लगा।

उसे उम्मीद (hope) थी कि जल्द उसके बेटे की MRI हो जायेगी।

फिर उसको हुई बिमारी (disease) का पता चल जाएगा

और उसका काम हो जाएगा।

होगा क्यों नहीं ?

देश के सबसे बड़े अस्पताल (biggest hospital of country) में जो आया था

सारी उम्मीद लेकर आया था।

लेकिन पिछले 1 घंटे (last one hour) से उसका नंबर न आया।

आता भी कैसे ?

Vintage Antique White Pearl Zircon and Metal Finger Ring for Girls and Women

अन्दर पहले से MRI करवाने वालो की भीड़ (crowd) जो थी।

एक MRI में करीब आधा घंटा (half an hour) लगता है।

और 50 संवेदनहीन लोग (sensitive peoples) उस से पहले लाइन लगा के बेठे थे।

और मशीन 24 घंटे चलती तब भी उसका नंबर (number) शायद 2वे दिन आता।

देश (countries) का सबसे बड़ा अस्पताल !!

देश के नामी गिरामी विशेषज्ञों (specialists) से लेस अस्पताल !!

हम 21 वि सदी (century) में हैं

हमारी GDP की रफ़्तार सभी देशो (speed) को मात दे रही है।

हमने सबसे सस्ता (cheapest) मंगल यान अन्तरिक्ष में भेज दिया।

हर महीने हर सप्ताह (every week) हमारा इसरो नए कीर्तिमान स्थापित कर रहा है।

हमें न्युक्लिर मिसाइल ग्रुप (nuclear missile group) की सदस्यता मिलने वाली है।

हम तेजस जैसे हलके लड़ाकू (light fighter jet) विमान बना रहे हैं।

पंडूबियाँ बना रहे हैं।

लेकिन हमारे अस्पतालों में Xray मशीन नहीं हैं

MRI मशीन नहीं हैं।

होंगी भी कैसे ?

Gold Plated Cuff & Kadaa Bangle Twins Design for Women and Girls

यहाँ MRI मशीन बनाने की तकनीक (technique) है ही नहीं

न ही उसके खराब होने पर उसे सुधारने (no maintenance) की कोई तकनीक है।

आपको बता दूँ एक उम्दा गुणवत्ता (quality) की MRI मशीन करीब 1 करोड़ की आती है।

और ये चीन जापान कोरिया (china japankorea) जैसे देशो से आयात की जाती हैं

खराब होने पर या तो मशीन चाइना जायेगी (mahchience goes to other country) या वहां से टीम यहाँ आएगी

इसकी मरम्मत का खर्च (expensive maintenance) लगभग लाखो में आएगा।

अब ये जानकर आपको अमृतानंद की अनुभूति (feel good) होगी कि 3600 करोड़ की शिवाजी की मूर्ती

और लगभग 2100 करोड़ की सरदार पटेल की मूर्ति क्रमश: मुंबई और गुजरात (mumbai and gujarat) में बन रही हैं।

इसमें कोई दो राय नहीं है ये दोनों हमारे गौरव (proud of india) थे हैं सदा रहेंगे।

इनका मोल इन (thier value) पैसो से कहीं बढ़कर था।

Antique and Traditional Silver Plated Oxidized Bangles Set For Girls and Women

लेकिन ये भी होते तो कहते कि “अस्पताल बनाओ  (make hospital) जरुरी व्यवस्था उपलब्ध कराओ। उनकी जरुरत की (needy things) चीजे बनाओ।”

ज्यादा दूर न जाकर नजदीक (nearby) आते हैं

मेट्रो (metro train) के अगले चरण में कुल 4 हजार करोड़ रुपये खर्च होंगे।

और ये उक्त सभी प्रोजेक्ट (projects are right) अपनी अपनी जगह ठीक हैं।

लेकिन प्राथमिकताए (priority) जैसे रोटी कपडा मकान स्वस्थ्य पीने का पानी ये तो पूरी हों।

सबसे बड़े अस्पताल (hospitla) में कम से कम 10 MRI मशीन हो जाए तो किसका क्या बिगड़ जाएगा ?

मेक इन इंडिया (make in india) के तहत यहाँ ऐसी जरुरत की चीजे बनने सुधरने (if things getting improve) लगेंगी तो किसका क्या बिगड़ जाएगा ?

लेकिन नहीं !!

हमें सबसे ज्यादा जरुरत अभी 36 राफेल (fighter jet) लड़ाकू विमानों की है

जिनकी कीमत करीब 36000 करोड़ है

आखिर में वो बिलखता हुआ बाप स्ट्रेचर (stretcher) पे लेटे हुए अपने बच्चे को रोते हुए बाहर ले गया।

शायद हिम्मत टूट गयी थी (break himself) उसकी या उस बच्चे की साँसे !! :'(

लेकिन रोज मोत देखने वाले अस्पताल (hospital) की संवेदनाये तो मर चुकी थी

उन्हें क्या फर्क पड़ता है (they don’t care) कि कोई मरे या जिए

Latest Fashion Gold Plated Metal and Zircon Bangle Kada Set of 2

आज दान की जरूरत मंदिरो (temples) से ज्यादा अस्पतालों (hospitals) को है

मैं आपसे बिलकुल नहीं कहूँगा कि इस पोस्ट को शेयर करे…. ये आपकी मानवता (depends on you) पे निर्भर है

, , , , , , , , , , , , , , , , , , ,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *